क्लोरोक्वीन या हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन के क्या है साईड इफेक्ट? जाने इस खबर में

हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन और क्लोरोक्वीन दोनों की ही रासायनिक संरचना और मेडिकल इस्तेमाल अलग-अलग है. हालांकि कोविड-19 की बीमारी में हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन की उपयोगिता को लेकर तरह-तरह दावे किए जा रहे हैं और इस दिशा में कुछ रिसर्च भी हुए हैं.

पर पैन अमरीकन हेल्थ ऑर्गनाइज़ेशन (पाहो) ने छह अप्रैल को चेतावनी दी थी कि हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन को लेकर किए जा रहे दावों को सही साबित करने वाला कोई ठोस सबूत अभी तक सामने नहीं आया है. जब तक कोई ठोस सबूत न मिल जाए ‘पाहो’ ने अमरीका की सरकार से इसके इस्तेमाल से परहेज करने की अपील की है.

संस्था ने कहा है, “मौजूदा दिशानिर्देशों और प्रक्रियाओं का पालन किए बगैर क्लोरोक्वीन या हाइड्रोक्सीक्लोरोक्वीन के इस्तेमाल के विपरीत प्रभाव हो सकते हैं. इससे व्यक्ति गंभीर रूप से बीमार पड़ सकता है और यहां तक कि उसकी मौत भी हो सकती है.”