बेटी बनी मां के लिए देवदूत, बचाई मां की जान

संदीप कुमार , चमोली


रविवार को तपोवन के पास नदी के किनारे लकड़ी लेने गई एक महिला का पैर अचानक फिसल गया जिससे महिला नदी मै गिर गई।मां को नदी मै गिरता देख बेटी ने साहस का परिचय देते हुए अपनी मां को बचाने के लिए अपनी जान की परवाह न करते हुए नदी के कूद गई।और किसी तरह से अपनी मां को बचाकर नदी से बाहर ले आई जिसके बाद सूचना मिलने पर स्थानीय लोगों की मदद से महिला को सड़क मार्ग तक लाया गया सूचना मिलने पर चौकी प्रभारी और सिपाहियो द्वारा निजी वाहन द्वारा जोशीमठ के नजदीक पहुंचता जिसके बाद रास्ते से 108 की मदद से सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र जोशीमठ लाया गया प्राथमिक उपचार के बाद महिला को घर वापस भेज दिया गया
बता दे की अगर समय पर ये बहादुर बेटी अपनी जान की परवाह न करते हुए अपनी मां को न बचाती तो महिला की जान भी जा सकती थी।
महिला नेपाल मूल की है और कई वर्षों से तपोवन मै रहती है ।महिला लड़की लेने नदी के समीप गई हुई थी कि उसका पैर अचानक फिसल गया जिससे वो नदी मै जा गिरी।उसके बाद उस महिला की बेटी ने बहादुरी दिखाते हुए अपनी मां कि जान बचाई ओर नहीं से बाहर निकाला स्थानीय लोगों द्वारा महिला की अपने निजी वाहन से जोशीमठ पहुंचाया महिला की पहचान राम कली देवी पत्नी गंगा सिंह के रूप मै हुई।