5 हजार उपनल कर्मचारियों ने सरकार की शुद्धि बुद्धि के लिए किया महायज्ञ,क्रमिक अनसन जारी

उपनल कर्मचारी महासंघ उत्तराखंड के बैनर तले प्रदेश अध्यक्ष  कुशाग्र जोशी के नेतृत्व में एकता विहार लेन नंबर 15-16 सहस्त्रधारा रोड के धरना स्थल पर दसवें दिन भी धरना जारी रहा।
धरना स्थल में कर्मचारियों द्वारा क्रमिक अनशन किया गया जिसमें निम्न कर्मचारी क्रमिक अनशन पर रहे-
जय सिंह चौहान, रघुवीर भंडारी, गुड़पाल सिंह चौहान, रविन्द्र डंगवाल, आनंद बडोनी, योगेंद्र बडोनी, विवेक बडोनी।
उपनल कर्मचारियों के समर्थन में उत्तराखंड नर्सेज एसोसिएशन के प्रदेश प्रदेश अध्यक्ष मीनाक्षी ज़ख्मोला व उनकी प्रदेश कार्यकारिणी द्वारा उपनल कर्मचारियों का समर्थन किया गया और कहा गया यदि सरकार उनकी मांगों को नहीं मानती है तो उनको भी उपनल कर्मचारियों के धरने पर बैठने के लिए मजबूर होना पड़ेगा।
उपनल कर्मचारी महासंघ द्वारा धरने के दसवें दिन धरना स्थल पर महायज्ञ का आह्वान किया गया और 5000 कर्मचारियों द्वारा सरकार की बुद्धि शुद्धि के लिए आहुति भी दी और भगवान से प्रार्थना की कि सरकार जल्द ही कर्मचारियों की मांगों पर विचार कर कर्मचारियों को वापस काम पर लौटने के लिए अच्छा कदम उठाए इसके अतिरिक्त धरना स्थल पर उपनल कर्मचारी महासंघ द्वारा वृक्षारोपण का कार्य भी किया गया जिसमें धरना स्थल के किनारे किनारे पेड़ लगाए गए
महासंघ के महासंघ के मुख्य संयोजक श्री महेश भट्ट जी द्वारा कहा गया यदि सरकार हमारी मांगों पर विचार नहीं करती है तो उपनल कर्मचारियों को विवश होकर सड़क पर आकर प्रदर्शन हुआ हड़ताल को उग्र रूप देना होगा और सरकार से भी यह आशा की कि वह जल्द उपनल कर्मचारियों की मांगों पर विचार करें और बताया गया कि कल दिनांक 4 मार्च को महासंघ द्वारा धरना स्थल पर रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया है जिसमें लगभग 100 से डेढ़ सौ लोग रक्तदान शिविर में प्रतिभाग करेंगे।
धरना में सभापति विनोद गोदियाल महामंत्री हेमन्त रावत पूर्व अध्यक्ष दीपक चौहान, भावेश जगूड़ी, हरीश कोठारी, दिनेश रावत, अभिनव जोशी, मीडिया प्रभारी मनोज सेमवाल, रोहित वर्मा, आशुतोष पुरोहित, विजय राम खंक्रियाल, विनय प्रसाद हिमांशु जुयाल जीतराम पौण्ठियाल, अनिल जाखि, आशुतोष नौटियाल, मनोज चौहान प्रकाश जोशी मीना राशि दीपा गरिमा आदि उपस्थित थे ।