उपनल कर्मचारियों का धरना 41 दिन भी जारी, मुख्यमंत्री व मंत्री गणेश जोशी के स्वास्थ्य लाभ की कामना के लिए शनि मंदिर में की पूजा अर्चना

उपनल कर्मचारियों के धरने के 41वें दिन सरकार/शासन द्वारा  मुख्यमंत्री  एवं मंत्री  गणेश जोशी शीघ्र स्वास्थ्य लाभ हेतु नंगे पैर शनि मंदिर जाकर पूजा अर्चना एवं कुछ उपनल कर्मचारियाें द्वारा अपने विधानसभा क्षेत्रों के जनप्रतिनिधियों से लगाई न्याय की गुहार

उपनल कर्मचारी महासंघ उत्तराखंड के बैनर तले गत 22 फरवरी 2021 से प्रदेश अध्यक्ष श्री कुशाग्र जोशी के नेतृत्व में एकता विहार लेन नंबर 15-16 सहस्त्रधारा रोड़ स्थित धरना स्थल के साथ-साथ विभिन्न जनपदों एवं सुशीला तिवारी अस्पताल हल्द्वानी में भी धरना जारी रहा।
विधानसभा क्षेत्र रायपुर एवं कोटद्वार से आये उपनल कर्मचारियों द्वारा अपने-अपने जनप्रतिनिधियों से मिलने गए। रायपुर क्षेत्र के विधायक श्री उमेश कुमार शर्मा (काऊ) द्वारा माननीय मुख्यमंत्री जी से दूरभाष के माध्यम से वार्ता करते हुए, लिखित आश्वासन दिया गया कि उपनल कर्मचारियों के कमेटी में सरकार के 02 मंत्रियों द्वारा उपनल की कमेटी का विस्तार किया जाएगा और उसके बाद मंत्रियों द्वारा मंत्रियों द्वारा उपनल कार्मिकों के समस्याओं का शीघ्र समाधान किया जाएगा। इसी क्रम में कोटद्वार विधानसभा से आए उपनल कर्मचारी मा० विधायक डॉ० हरक सिंह रावत से भाई सुबह उठाओ पूर्वाहन 9:00 मिलने गए और विधायक जी के आवास पर न मिलने के कारण देर रात तक उनसे मुलाकात करने के लिए उनके आवास पर ही डटे रहें, माननीय विधायक जी के आवास पर सभी कर्मचारियों के लिए मन में विधायक जी की ओर से जलपान की व्यवस्था भी की गई। अपराह्न 5:00 बजे मन में विधायक जी द्वारा दूरभाष के माध्यम से आश्वासन दिया गया कि शीघ्र ही तो कर्मचारियों की मांगों का निस्तारण किया जाएगा।

प्रदेश महामंत्री हेमंत सिंह रावत द्वारा विभिन्न जनपदों से एकत्रित उपनल कर्मचारियों द्वारा माननीय मुख्यमंत्री जी एवं माननीय सैनिक कल्याण मंत्री श्री गणेश जोशी जी के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ हेतु श्री शनिदेव की उपासना की गई तथा 7-8 कर्मचारियों द्वारा नंगे पैर श्री शनि मंदिर जाकर पूजा अर्चना की गई। जहां मंदिर जाते हुए रास्ते में उन्हें पुलिस प्रशासन के कुछ अधिकारियों द्वारा रोका गया तथा संबंधित कर्मचारियों के आग्रह पर उन्हें मंदिर जाने की अनुमति दी गई। देवनगरी में पुलिस प्रशासन के इस रवैया से आम जनमानस में रोश भी व्याप्त है।

धरने में मुख्य संयोजक आंदोलन महेश भट्ट, महामंत्री हेमन्त रावत, विनोद गोदियाल, दीपक चौहान, भावेश जगूड़ी, हरीश कोठारी, हरीश पनेरु, दीवान सिंह, अमित लाल, रविंद्र बिष्ट, ललित नेगी, कमलेश्वर कंसवाल, बृजकिशोर त्यागी, विनय कुमार, विनय प्रसाद, विवेक भट्ट, बहादुर सिंह भाकुनी, हिमांशु जुयाल, तरपन सिंह चौहान, कपिल डोभाल, राकेश राणा दीपक भट्ट, मुकेश नेगी, विमल गुप्ता, विपिन असवाल, राहुल राणा, नीमा, वंदना, सरस्वती, रश्मि, मनीषा, अनमोल, के साथ-साथ विभिन्न जनपदों से आए अनेक उपनल कार्मिक उपस्थित रहे।