लॉकडाउन में फंसे जरूरत मंद लोगों की मदद के लिए आगे आये समाज सेवी विनोद बछेती

दिल्ली के लक्ष्मी नगर में गढ़वाली मौहले में लॉकडाउन में फंसे जरूरतमंद लोगों की मदद के लिए समाज सेवी विनोद बछेती आए आगे

कोविड-19 संक्रमण के चलते आज देश भर लोग जगह-जगह फंसे है। लोगों के खाने कमाने के साधन बंद हो चुके हैं। ऐसे में इन लोगों की मदद के लिए तमाम सामाजिक संगठन आगे आए है। इस कड़ी में कोविड-19 की विकट परिस्थिति में दिल्ली पैरामेडिकल & मैनेजमेंट इंस्टीट्यूट(डीपीएमआई) के अध्यक्ष एवं समाज सेवी विनोद बछेती लॉकडाउन में फंसे जरूरतमंद लोगों की सशक्त आवाज़ बनकर आगे है। जो इस संकट के समय में हर उस जरूरतमंद व्यक्ति के साथ खड़े होकर मदद कर रहे है। जो व्यक्ति इस संकट के समय में लॉकडाउन में फंसा है,जिसके पास दून जून की रोटी हासिल करने का साधन मौजूद नहीं है।
विनोद बछेती इस संकट के समय में देश की राजधानी में फंसे हजारों जरूरतमंद लोगों तक खाद्य सामग्री पहुंचा इन लोगों को मदद पहुँचा चुके है। इस कड़ी में उन्होंने गुरूवार को दिल्ली के लक्ष्मी नगर स्थित गढ़वाली मौहले में डीपीएमआई के सौजन्य से लगभग बीस जरूरतमंद परिवारों को खाद्य सामग्री उपलब्ध करवायी।
इस मौके पर उनके साथ राष्ट्रीय स्वंय संघ के विभाग कार्यवाह महीपाल जी,गीता कालोनी के जिला प्रचारक अमन जी और समाज सेवी नवीन काला जी भी मौजूद थे। जिन्होंने इन गरीब और असहाय परिवारों को खाद्य सामग्री प्रदान की।
इस मौके पर समाज सेवी विनोद बछेती ने कहां कि इस संकट के समय में यह हमारी एक छोटी सी कोशिश है कि हम उन लोगों तक मदद पहुँचाए जिन लोगों के पास आज के समय में अपना परिवार चलाने के लिए कोई काम नहीं है। लक्ष्मी नगर में निवास करने वाले ऐसे ही कुछ परिवारों को आज हमने इस परिपेक्ष में मदद पहुँचाई है।
आपको बता दें कि इससे पहले भी समाजसेवी विनोद बछेती कोरोना वायरस के चलते लॉकडाउन में फंसे हजारों परिवारों तक मदद पहुँचा चुके है।