शिकायत प्रकोष्ठ के बाद, जिला प्रकोष्ठ, क्या ऐसे सुधरेगी व्यवस्था

शिकायत प्रकोष्ठ जे बाद, जिला प्रकोष्ठ, क्या ऐसे सुधरेगी व्यवस्था
देहरादून। शिक्षा निदेशालय में प्रदेश स्तर पर बने शिकायत प्रकोष्ठ के बाद शिक्षा मंत्री ने हर जिले में निजी स्कूलों से जुड़ी शिकायतों के निस्तारण के लिये प्रकोष्ठ बनाने का निर्णय लिया है। लेकिन बड़ा सवाल यह कि क्या खाली प्रकोष्ठों के गठन से व्यवस्था सुधर पाएगी। क्योकि शिक्षा निदेशालय में बने प्रकोष्ठ से तो कोई खास रिजल्ट नही निकल पाया। अब हर जिले प्रकोष्ठ के गठन से समस्याओं का निस्तारण हो पायेगा। साथ ही सवाल यह उठ रहा कि अगर इन प्रकोष्ठों में निदेशालय के प्रकोष्ठ की तरह शिक्षकों का अटैचमेंट किया जाता है तो सरकार की नीति और शैली पर सवाल उठ सकते हैं।दूसरा जब शिकायत प्रकोष्ठ के गठन के बाद उसके परिणाम की समीक्षा तक नही की गई तो जिले के प्रकोष्ठों की समीक्षा कौन करेगा।