शब्जीयों और खाद्यानों का भरपूर स्टाॅक,अफवाहों पर न दे ध्यान

कोरोना वायरस के भय से स्कूल,माॅल,पिच्चर हाॅल,से लेकर मेले ठेले तक 31 मार्च तक बंद करा दिये गये है। जिसका फायदा उठाते हुऐ कुछ सरारती तत्वों ने मंगलवार शुबह से ही मंडी बंद होने की अफवा हर जगह फैला दी,जिससे अचानक शब्जी की दुकानें पर अचानक भीड़ हो गई। वही इस बात का खंडन जिलाधिकारी द्वारा किया गया लेकिन आज शुबह फिर से मंडी में भारी भीड़ जमा हो गई जिससे मंडी परिषद को पुलिस बल बुलाना पड़ा। वही मंण्डी परिषद के अध्यक्ष राजेश कुमार शर्मा का कहना है कि इस तरह की अफवाहों पर ध्यान न दिया जाय फल शब्जी दूध और खाद्यान यह सब आवश्यक सेवाये है। यह हर हालत में खुली रहेगी।

वही  जिला खाद्य आपूर्तिै अधिकारी जसवंत कण्डारी और जिला खाद्यान अभिहित अधिकारी गणेश कण्डावाल द्वारा आड़त बाजार समेत कई स्थानों पर खाद्यानांे का जायजा लिया गया। जिसमें पाया गया कि खाद्यानों का भरपूर स्टाॅक मौजूद है। इन्होंने बताया कि हमारे परिक्षण में निकट भविष्य में भी खाद्यान की किसी भी प्रकार की कोई कमी नहीं है। वही मंडी परिषद के सचिव विजय थपलियाल का कहना है कि, शब्जी मंडी में फल और शब्जी का भरपूर स्टाॅक बना हुआ है। मंडी को किसी हाॅलत में बंद नहीं किया जायेगा। उन्होंने आम जनता से अपील की है कि किसी भी अफवा पर ध्यान दे।