बद्रीनाथ दर्शन के बाद जोशीमठ पंहुची माता अनसूईया की रथ डोली, का भक्तों ने किया भब्य स्वागत

45 साल बाद देवरा यात्रा पर निकली पुत्रदायनी माता अनसूईया की रथ डोली बद्रीनाथ दर्शन के बाद गोविन्दघाट पंहुची जहां श्रृधालुओं ने माता की भब्य पूजा अर्चना की।रात्रि विश्राम के दौरान रातभर माता के जागरण और जयकारे गूंजते रहें। बृहस्पतिवार को सती सिरोमणी माता अनसूईया की रथ डोली की विधिविधान से पूजा अर्चना की गई तत्पश्यात रथडोली ने जोशीमठ के लिए प्रस्थान किया।

जोशीमठ में रात्रिविश्राम किया जायेगा। आपको बता दे कि इस देवरा यात्रा में खल्ला को छोडकर 8 गांवों के भक्त सामिल है। जो भक्तिभाव से माता अनसूईया की रथ डोली को गांव गांव और शहर शहर में घूमाकर पुण्य की प्राप्ति कर रहे है।9 महीने तक चलने वाली इस रथ यात्रा में अधिकतर युवा माता की सेवा में लीन है।जिन पर माता की असीम कृपा सदैव बनी रहती है।