सोशल मीडिया पर सुर्खियां बटोर रहा यह शादी का कार्ड

अभी तक आपने हजारों महॅंगें-महंॅगे शादी के कार्ड देखें होगे जो विभिन्न प्रकार के डिजायनों में बने होते है। लेकिन शादी का एक साधारण सा कार्ड ऐसा भी है जो सोशल मीडिया पर सुर्खियों बटोर रहा है।
कृष्ण विहार, गुजरौवाली देहरादून के निवासी स्व. गोर्वद्वन प्रसाद पन्त व श्रीमती कृष्णा पन्त ने अपने बेटे की शादी 29 सितम्बर 2017 को तय की । कार्ड पर छपे संदेश हर किसी के मन को छू रहे है।दर असल शादी के कार्ड पर दुल्हा-दुल्हन का नाम स्वच्छ भारत मिशन का सिम्बल गांधी जी के चस्मे के अंन्दर लिखा गया है साथ ही बेटी बचाओं बेटी पढाओं का सिम्बल भी छपा है। लेकिन सबसे ज्यादा सुखियों बटोर रहा यह संदेश “इतना ही लो थाली में व्यर्थ न जाये नाली में“ बटोर रहा है। जो सोशल मीडिया पर भी चर्चा का विषय भी बना हुआ है।


जिला पंचायत सदस्य तुनुवाला हेमा पुरोहित कहती है कि इस तरह का शादी का कार्ड पहली बार देखा है जिसमें इतने प्रेरणा दायक और समाज को अच्छा संदेश देने वाला स्लोगन छपा है। हम सभी लोगों को यह शादी का कार्ड स्वच्छता,भोजन को अनावश्यक तरीके से फेकने और बेटी जो हर मांॅ बाप की लाडली होती है उसको पढाने और बचाने का संदेश दे रहा है। सच बताओं तो इस कार्ड ने मुझे अंदर झकझोर कर रख दिया है।


सवा सौ करोड़ से भी अधिक जनसंख्या वाले हमारे देश में अभी भी करोडों लोंगों को एक ही समय का भोजन मिल पाता है और लाखों लोगों को एक समय का भोजन भी नही मिल पाता है।वही दूसरी ओर सादी,पार्टी और होटलों में अधिकतर लोग जरूरत से अधिक खाना थाली में निकाल लेते है जिसको आधा से अधिक फेक देते है। यही खाना अगर जरूरत के अनुसार खाया जाय तो बचा हुआ खाना अनाथालयांं या गरीब लोगों को दिया जा सकता है। जरूरत है जागरूकता फैलने की समझदारी की जिससे हमारे समाज में कोई भूखा न रहे, पर्यावरण गंदा न हो और बेटियों के प्रति समाज में समानता आ सके।

-भानु प्रकाश नेगी