साधन समिति की लम्वित मांगो के लिए नव गठित प्रान्तीय कार्यकारिणी की बैठक

ऋषिकेष /देहरादून

साधन समिति सचिव परिषद् की नव गठित प्रान्तीय कार्यकारिणी की बैठक कैम्प कार्यालय ऋषिकेष में अध्यक्ष आर एस मिंगवाल की अध्यक्षता की सम्पन्न हुई। बैठक में परिषद की लम्बित मांगों पर विचार विमर्श किया गया। साथ ही परिषद अपन मांगों को किस प्रकार से सरकार तथा विभागीय अधिकारियों के समक्ष रखें इस पर विचार किया गया।

अध्यक्ष मिंगवाल ने कहा कि 29 जुलाई को पूरे प्रदेश ने सर्व सम्मति से नई कार्यकारणी का गठन किया गया है, किन्तु प्रदेश के पूर्व अध्यक्ष तथा महामंत्री द्वारा अपने आप को अलग थलग पडता देख,बिना किसी की अनुमति के एक पत्र जारी कर नई कार्यकारिणी के अध्यक्ष महामंत्री सहित कई सदस्यों को प्राथमिक सदस्यता से वर्खास्त कर देने हेतु लिखा है।इसका खण्डन कर घोर निंन्दा की जाती है। साथ ही पूर्व महामंत्री जो उनके जनपद द्वारा एक वर्ष पूर्व में ही प्रान्तीय प्रतिनिधि पद से वर्खास्त किये जा चुके है, जबरन बिना जनपद की सदस्यता के स्यंम को महामंत्री बना बठें है।
नव निर्वाचित महामंत्री विपिन भटट ने कहा कि सचिव परिषद के जितने भी कार्य लम्बित है उसका कारण उक्त पूर्व पदाधिकारियों का विभाग को अंधेरे में रखकर गलत तथ्य पेश करने के साथ साथ जनपदों का भी शोषण किया है।

मुख्य संयोजक एचएम नौटियाल ने 7 अगस्त के समाचार का खण्डन करते हुए कहा कि पिछली कार्यकारणी विभाग तथा सदस्यों से अपना विश्वास खो चुकी है।इस कारण नई कार्यकारणी का गठन किया गया है।नई कार्यकारणी पर पूरा प्रदेश विश्वास करता है, जो संगठन के कार्यो को ईमानदारी से आगे बडायेंगी।

बैठक के दौरान जे.एस.राणा,सुरेन्द्र राणा,मंगल सिंह राणा,उत्तम कुकसाल,जगदीश सिंह,कमल रावत,माणिकला,धनीराम हिमान्सू जैसाली,दीपक डिमरी,राधा बैडाई,राकेश बधाणी,गोविन्द रावत,अश्विन बहुगुणा आदि सदस्य मौजूद रहे।

-भानु प्रकाश नेगी, हिमवंत प्रदेश न्यूज