सरकारी अस्पतालों मे चिकित्सकों की भर्ती के लिये क्रमिक अनसन और धरना जारी।

 राजकीय चिकित्सालय ऋषिकेश समेत प्रदेशभर में सरकारी हॉस्पिटलों में चिकित्सकों की नियुक्ति को लेकर राइट टू हेल्थ का आमरण अनशन तीसरे दिन भी जारी रहा।तीसरे दिन भी आमरण अनशन कारी अरविंद हटवाल, गौरव राजपूत एवं चंद्रमोहन भट्ट भी आमरण अनशन पर डटे रहे। वहीं क्रमिक अनशन पर सुनीता देवी,दिनेश कुलियाल, पंकज वर्मा, दिनेश असवाल, जगत रतूड़ी, लालमणि रतूड़ी,रवप्रित छावड़ा बैठें। अनशनकारी अरविंद हटवाल ने कहा कि जब तक राजकीय चिकित्सालय में चिकित्सको के रिक्त पद नही भर जाते तब तक हमारा अनशन जारी रहेगा।

राइट टू हेल्थ से जुड़े गढ़वाल महासभा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ राजे नेगी ने बताया कि आमरण अनशन के तीसरे दिन भी विभिन्न सामाजिक संगठनों ने अनशन स्थल पर आकर अपना समर्थन दिया। समर्थन देने वालो में सोमेश्वर नगर विकास कल्याण समिति,पर्वतीय लोक कल्याण समिति, परशुराम महासभा ऋषिकेश,यातायात एवं पर्यटन विकास सहकारी समिति,उत्तराखण्ड युवा संगठन, ऋषिकेश परचून ट्रांसपोर्ट एशोशिएसन,लांयन्स क्लब देवभूमि के पूर्व अध्यक्ष राजेश अरोरा,शामिल थे।

अनशन पर समर्थन देने पहुँचे प्यारेलाल जुगलान ने कहा कि वर्तमान समय में पूरे प्रदेश में स्वास्थ्य सेवाओं पटरी से उतरी हुई है पूरे प्रदेश में पहाड़ के साथ साथ अब मैदानी क्षेत्र के सरकारी हॉस्पिटल में डॉक्टरों की कमी का खामियाजा गरीब जनता को रोजाना झेलना पड़ रहा है।

क्रमिक अनशन पर बैठे दिनेश असवाल एवं लालमणि रतूड़ी ने कहा कि गढ़वाल के मुख्यद्वार पर संचालित राजकीय चिकित्सालय में पिछले 9 माह से बाल रोग विशेषज्ञ, रेडियोलॉजिस्ट, महिला चिकित्सक, एनेस्थेटिक्स, ईएनटी, चर्म रोग विशेषज्ञ का अभाव होने के कारण रोजाना गरीब परिवारों के लोगो को मजबूरन महंगे इलाज के लिए निजी चिकित्सालयो की ओर जाना पड़ रहा है। गढ़वाल महासभा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ राजे नेगी ने बताया कि सरकारी हॉस्पिटल में चिकित्सको की मांग को लेकर चल रहे आमरण अनशन को सफल बनाने में सभी सामाजिक संगठनों एवं जनप्रतिनिधियों से सहयोग की अपील की। इस अवसर राजकुमार अग्रवाल,कुंवर सिंह रावत,विशेश्वर दत्त बडोला, विमल रावत, जयपाल जाटव,डॉ आशुतोष डंगवाल हर्षित गुप्ता,राजा ढिंगरा,कमल सिंह भंडारी,शिशुपाल रावत सुरेंद्र रयाल,शेलेन्द्र रावत ने समर्थन दिया।