चतुर्थ केदार भगवान रुद्रनाथ की चल विग्रह डोली गद्दी स्थल से रवाना।

चमोली/गोपेश्वर
चतुर्थ केदार भगवान रुद्रनाथ की चल विग्रह डोली आज अपने शीतकालीन गद्दी स्थली गोपीनाथ से हुई रवाना 19 मई को खुलेंगे कपाट
– चतुर्थ केदार रुद्रनाथ के कपाट ग्रीष्म काल के दौरान आम श्रद्धालुओं के लिए 19 मई को सुबह ब्रह्म मुहूर्त खुलेंगे
एशिया का एकमात्र ऐसा मंदिर जहां होते हैं भगवान शिव के मुख दर्शन
– आज पनार में रहेंगी भगवान रुद्र नाथ की डोली
सैकड़ों की संख्या में श्रद्धालु पहुंचते हैं रुद्रनाथ
-विषम भौगोलिक परिस्थितियां होने के कारण आज भी मूलभूत सुविधाओं का ना होना कहीं ना कहीं उत्तराखंड के पर्यटन प्रदेश होने पर सवाल उठाता है.