पोखरी नखल्याणा मोटर मार्ग पर देरी को लेकर ग्राणींण उतरे सड़कों पर।

पोखरी नखल्याणा मोटर मार्ग पर कार्य में तेजी लाने को लेकर ग्रामीणों ने पोखरी तहसील में शासन प्रसाशन के खिलाफ जमकर नारेबाजी कर रैली निकाली।
युवा नेता संतोष चौधरी ने हिमवंत प्रदेश न्युज़ को बताया कि 2014 में पूर्व सी एम हरीश रावत व पूर्व विधायक बद्रीनाथ राजेन्द्र सिंह भण्डारी द्वारा यह मोटर मार्ग पास किया गया था। विगत वर्ष इस मोटर मार्ग पर वन विभाग ने आपत्ति लगा दी थी अब यह आपत्ति हटा दी गई है। लेकिन लोक निमार्ण विभाग की लापरवाही के कारण सड़क मार्ग पर कार्य अत्यंत शिथिल गति से किया जा रहा है और काफी समय से बंद पडा हुआ है। उन्होनें लोक निर्माण विभाग पर जानबूझ कर कार्य में देरी करने का आरोप लगाया।

कांग्रेस के युवा नेता गिरीश किमोठी ने शासन प्रसाशन पर लापरवाही का आरोप लगाते हुये कहा कि पोखरी चोपड़ा मोटर मार्ग के 2014 में प्रस्तावित होने पर भी इस पर सुचारू रूप से काम नही हो पाया है जो विभाग की घोर लापरवाही का नमूना है।

गौरतलब है कि यह मोटर मार्ग पोखरी,नखल्याणा,खड़की,किमगैर,चोपड़ा आदि गांवों से होते हुये रौता मोटर मार्ग पर मिलेगा। नये उप जिला अधिकारी रोहित कुमार के आश्वासन के बाद ग्रामीणों ने अपना क्रमिक धरना स्थगित कर दिया है।लेकिन उन्होंने शासन प्रसाशन को चेताया है कि जल्द हमारी मांगों पर अमल नही हुआ तो ग्रामीणों को उग्र धरना प्रर्दशन के लिये मजबूर होना पड़ेगा।

-भानु प्रकाश नेगी, देहरादून।