भ्रष्टाचार की भेंट चड़ा उडामाण्डा-रौता मोटर मार्ग का डामरीकरण.

हल्की सी बरसात में उखडी डामर ने खोली पीएमजीएसवाई की घटिया निमार्ण की पोल

पोखरी /सिमखोली (Chamoli)

//भानु प्रकाश नेगी//
उडामाण्डा रौता मोटर मार्ग पर सिमखोली गांव से रौता तक डामरीकरण का काम अभी चल ही रहा था कि हल्की सी बारिश ने डामरीकरण की पोल खोल कर रख दी। प्रधानमंत्री ग्राम सडक योजना के अर्न्तगत बनने वाली इस सडक पर डामरीकरण 10 साल के बाद शुरू किया गया, काम की गुणवक्ता इतनी घटिया है कि एक तरफ से डामरीकरण हो रहा था और दूसरी तरफ वह उखड़ता जा रहा था।

क्षेत्रीय ग्रामीणों का कहना है कि डामरीकरण का काम काफी धीमी गति से चल रहा है,और काम की गुणवक्ता इतनी घटिया है कि हल्की बरसात में सड़क का डामर उखड गया है जिससे सडक पर बडे-बडे गडडे बन गये है,जिससे वाहन चलाने में काफी परेसानियों का सामना करना पड़ रहा है।पूर्व छात्र संध अध्यक्ष पोखरी सूरज सिंह खत्री का कहना है कि,जब सडक पर डामरीकरण का काम हो रहा था तब हमने काम की गुणवक्ता को लेकर संबधित अधिकारियों से बातचीत की लेकिन उन्होनें उस वक्त हमें सडक का सही डामरीकरण करने की बात का आश्वासन दिया, और अब कार्य को पूरा किये बिना ही बंद कर दिया गया है। वही सड़क का डामरीकरण हल्की बारिश में उखड जाने से क्षेत्रीय ग्रामीणों में भारी रोष व्याप्त है,ग्रामीणों ने संबधित विभाग को चेताया है कि जल्द सडक को ठीक नही किया गया तो विभाग के खिलाफ धराना प्रर्दशन किया जायेगा,जिसकी सारी जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी।