सरकार से निराश माता पिता की उत्तराखंड समाज से मदद की गुहार, दिव्यांशु को बचाओं

#save_divyanshu 7 साल का दिव्यांशु कंडारी देहरादून के कैलाश हॉस्पिटल के ICU वार्ड में 6 अक्टूबर से जिंदगी और मौत के बीच जंग लड़ रहा है | यह निक्कमा System दिव्यांशु का एक हाथ निगल चुका है अर्थात् दिव्यांशु अपना एक हाथ खो चुका है |

देहरादून के सरस्वती विहार में 6 अक्टूबर को बिजली की 11000 वोल्ट की हाईटेंशन तारो की चपेट में आने से दिव्यांशु का सिर से लेकर पाँव तक पूरा शरीर बुरी तरह से झुलसा गया था | डॉक्टरों ने दिव्यांशु को बचाने के लिये 13 अक्टूबर को हथेली काटी और 17 अक्टूबर को बाजू से पूरा हाथ काटना पड़ा |

दिव्यांशु को रोज एक बोतल खून चढ़ता है | कैलाश हॉस्पीटल के बर्न स्पेशलिस्ट डॉ0 हरीश चंद्र घिल्डियाल दिव्यांशु का ईलाज कर रहे हैं | डॉक्टरों ने दिव्यांशु के ईलाज में 11 लाख रूपये खर्च होने का अनुमान जताया है जो ईलाज के दौरान इससे भी अधिक हो सकता है | दिव्यांशु के माता पिता अपनी सारी जमापूंजी लगाकर और परिवार-रिश्तेदारों-मित्रों-पड़ोसियों से उधार लेकर अभीतक लगभग 4-5 लाख रुपयों का हॉस्पीटल का बिल भर चुके हैं और हॉस्पीटल को बाकी पैसों के भुगतान का भरोसा दिया है जिससे दिव्यांशु का ईलाज ना रूके |

साथियों जनप्रतिनिधियों का ये हाल है कि “रायपुर के विधायक उमेश शर्मा” ने 6 अक्टूबर को ईलाज के लिये पैसों की मदद का आश्वासन दिया परंतु कोई भी मदद नही की और न ही सरकार की ओर से कोई धनराशि की मदद की गई है |

साथियों दिव्यांशु किसी नेता/मंत्री/अमीर बाप का बेटा नही है बल्कि हमारे जैसे एक साधारण परिवार से आता है | दिव्यांशु के पिता दौलत सिंह कंडारी देहरादून में एक प्राईवेट स्कूल में ड्राइवर है और अपने बेटे के ईलाज के लिये अपना सब कुछ लुटा चुके हैं | जो मूलरूप से टिहरी जिले के गांव- रिगोली पट्टी लोस्तु बडियार के रहने वाले है |

साथियों दिव्यांशु के ईलाज के लिये अभी लगभग 6-7 लाख रूपयों की जरूरत है | सरकार और विधायक ( रायपुर) से निराश होकर अब दिव्यांशु के माता पिता को उत्तराखंड समाज से मदद का भरोसा है | इस मामले में विधायक/सरकार अंधी-बहरी बनकर बैठी है परंतु हमारा समाज अंधा बहरा नही है | मुझे पूरी उम्मीद है कि देश दुनिया में फैले हमारे उत्तराखंड समाज के सभी सामाजिक और सांस्कृतिक संगठन, सामाजिक कार्यकर्ता, व्यवसायी, उच्च पदो पर कार्यरत लोग, पेशेवर व्यक्ति, अमीर धनाढ्य लोग और करोड़ो करोड़ उत्तराखंडी ईलाज के लिये खुलकर पैसों की मदद करेंगे और एक जागरूक समाज का परिचय देंगे |

आप सभी साथियों से हाथ जोड़कर अपील है कि दिव्यांशु के ईलाज के लिये हरसंभव आर्थिक सहयोग करें | पल पल जिंदगी और मौत की जंग लड़ रहे दिव्यांशु को ईलाज के लिये पैसो की सख्त जरूरत है | दिव्यांशु के पिता के खाते में सीधे मदद धनराशि भेजें | आपकी छोटी मदद भी दिव्यांशु को एक नया जीवन देगी |

Plz Donate for Divyanshu’s life:-

BANK NAME State Bank of India
A/C NAME Daulat Singh Kandari
A/C NUMBER 32828377469
IFSC CODE SBIN0000630
BRANCH Dehradun main branch
4, Convent road

दिव्यांशु के परिवारजनों का सम्पर्क नंबर :-
************************************
1) पिता – दौलत सिंह कंडारी – 9897829949

2) मामा – अरुण रतूड़ी (गायक कलाकर) – 9990671441

– राकेश नाथ
Social Activist Uttarakhand