हड़ताली कर्मचारियों के लिए बुरी खबर :’नो वर्क नो पे’ का शासनादेश जारी

मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने आदेश जारी करते हुए साफ कहा कि कर्मचारियों द्वारा की जाने वाली हड़ताल राज्य कर्मचारी आचरण नियमावली के अंतर्गत प्रतिबंधित है इसको लेकर जितने भी शासनादेश निर्देश निर्गत किए गए हैं उनका कड़ाई से पालन करने के निर्देश मुख्य सचिव ने सभी विभागों के अधिकारियों को दिए हैं वही मुख्य सचिव ने यह भी कहा है कि हड़ताल कार्य बहिष्कार के लिए जिस कार्मिक द्वारा अवकाश दिया जाएगा अनिश्चितकालीन हड़ताल आंदोलन कार्यक्रम में प्रतिभाग किया जाएगा उनको स्वता अनुपस्थित मानते हुए अनुपस्थित अवधि का वेतन आरत ना करने के साथ-साथ माह मार्च 2021 का वेतन भी अग्रिम आदेशों तक ना किया जाए तथा उक्त कार्मिक पर कारण ही तो वेतन नहीं का आदेश लागू किया जाए