गुर्दा रोगियों की शिकायत पर नेफ्रोप्लस कम्पनी (अस्पताल) संचालकों को नोटिस जारी।

कोरोनेसन अस्पताल में पीपीपी मोड़ पर सेवारत है नेफ्राप्लस कम्पनी।
-स्टॉफ नर्स के दुव्यहार व अनेक शिकायतों पर कम्पनी को सीएमएस ने जारी किया नोटिस।

कोरोनेसन अस्पताल में पीपीपी मोड पर संचालित किये जा रहे नेफ्रोप्लस कम्पनी के कर्मचारियों द्वारा मरीजों के साथ दुव्यहार व अस्पताल प्रसाशन द्वारा अनियमितता के चलते मरीजों ने एक शिकायत पत्र सीएमएस बीसी रमोला को सौपा। सीएमएस रमोला ने पत्र का संज्ञान लेते हुए डा.ॅजे.पी.नौटियाल को जांच के आदेश दिये है।
सीनियर पैथोलॉजिस्ट डॉ. नौटियाल ने बताया कि अस्पताल संचालक कम्पनी नेफ्रोप्लस को सभी सिकायतें व अनियमिताओं को ठीक करने के लिए नोटिस जारी किया गया है,जिसमें एक सप्ताह का समय दिया गया ह।अगर एक सप्ताह में व्यवस्थायें ठीक नही की जाती है। तो कंम्पनी पर उचित कार्यवाही की जायेगी।
गौरतलब है कि अस्पताल के मरीजों ने डॉक्टरों के एक बजे बाद अस्पताल में नही मिलने,जनेरेटर के ऑटोकट न होने से मरीजों को होने वाली परेसानियों,कर्मचारियों की बारी समय से न लगने से मरीजों को होने वाली परेसारियां,टैक्नीसियनों की कमी,स्टॉफ नर्स के मरीजों के साथ दुव्यहार आदि का सिकायत पत्र सीएमएस को सौपा गया था।सीएमएस द्वारा जांच के आदेश के बाद नेफ्रोप्लस कम्पनी पर कार्यवाही कब तक होगी यह कहना अभी जल्दबाजी होगा।
-भानु प्रकाश नेगी,देहरादून