उत्तराखंड के नेत्र रोगियों के लिए अच्छी खबर.

         //भानु प्रकाश नेगी //

आंखों की तीन महत्पवूर्ण मशीनें हुई गांधी नेत्र चिकित्सालय में स्थापित।

गांधी नेत्र चिकित्सालय विज्ञान केन्द्र एवं जिला अस्पताल भाग दो में आंखों की जांच और ऑपरेसन के लिए विश्व स्तरीय तीन मशीनें ओ सीटी, याग लेजर,फेंको) स्थापित की जा चुकी है। अस्पताल के सीएमएस बरिष्ठ नेत्र सर्जन डॉ. बीसी रमोला ने बताया कि हंस फांउडेसन की ओर से यह मशीनें अस्थापित की गई हैं। जो इस सप्ताह परीक्षण के दौर से गुजरेगी और अगले सप्ताह से आंखों के

हंस फॉउडेसन की मदद से पंहुची अस्पताल में ये महत्वपूर्ण मशीनें

बिगत कई सालों से गांधी नेत्र चिकित्सालय को आंखो का सुपर स्पेस्लिस्ट अस्पताल बनाने की कवायद चल रही थी लेकिन उपकरणों के अभाव में यहां पर सिर्फ मोतियाबिंद का ही ऑपरेसन हो पा रहा था। जो कि डॉ अपने संसाधनों से कर रहे थे।लेकिन हंस फाउडेसन की मदद से यहां पर विश्वस्तरीय मशीनें उपलब्ध हो गई है। जिससे अब प्रदेश के आंखों के मरीजों को दूसरे शहरों में नही भटकना पडेगा।

कौन कौन सी है वो तीन महत्वपूर्ण मशीनें

OCT-रेटिना की जांच के लिए महत्वपूर्ण उपकरण
YAG LASER-मोतियाबिंद के ऑपरेसन के बाद झिल्ली मोटी होने पर व काले मोतियाबिंद के उपचार हेतु महत्वपूर्ण मशीन।
PHAECCO-बिना टांके के मोतियाबिंद ऑपरेसन फोल्टेबिल लेंस प्रत्यारोपित करने हेतु।

सीएमएस डॉ रमोला ने जताया हंस फाउडेशन का आभार

अस्पताल के सीएमएस डॉ बीसी रमोला ने हंस फांउडेसन की संस्थापक माता मंगला एवं भोले जी महाराज का आभार जताया है। उन्होने ने कहा कि हंस फाउडेसन की मदद से अस्पताल में पंहुची विश्वस्तरीय मशीनों कारण अब प्रदेश के आंखो के रोगियां को दर दर नही भटकना पडेगा। आने वाले समय में और भी जरूरी मशीनें अस्पताल में स्थापित की जायेगी।

कोरोनसन और गांधी नेत्र चिकित्सालय में सप्ताह में तीन- तीन दिन रहेगी अल्ट्रासाउंड की व्यवस्था – डॉ पुनेठा

कोरोनेसन अस्पताल के सीएमएस डॉ एल सी पुनेठा ने बताया कि जिला अस्पताल भाग 1 में सोमवार,मंगलवार,शुक्रवार को और बुद्ववार,गुरूवार,शनिवार को अल्ट्रासाउंड की सुविधा उपलब्ध रहेगी।उन्होने ने बताया कि हमारे पास क्योकि एक ही डॉक्टर उपलब्ध है इसलिए फिलहॉल तीन तीन दिन ही दोनों अस्पतालों में अल्ट्रासाउंड की व्यवस्था रहेगी।
11 अगस्त तक बंद रहेगे गांधी नेत्र चिकित्सालय में बच्चों के टीकाकरण का कार्य
पल्स पोलियों सप्ताह की वजह से बच्चों के अन्य टीकाकरण का कार्य 11 अगस्त तक बंद रहेगें।क्यांकि टीकाकरण करने वाली एएनएम की डुयूटी पल्स पोलियों कार्यक्रम लगा दी गई है।