दुखद हादसा, नैनबाग विकासनगर के समीप वाहन दुर्धनाग्रस्त एक ही परिवार के 5लोगों की दर्दनाक मौत।

नैनबाग:


दिल्ली यमनोत्री राष्ट्रीय राज मार्ग सिलेसू पुल के पास हुए सड़क दुर्घटना में एक ही परिवार के पांच लोगों की मौके पर ही मौत हो गई । और दो घायल हो गए ,जिनकों उपचार के लिए हायर सेन्टर ले गये।

एक ही परिवार के पांचों लोग में बाबूराम में पत्नी दर्शनी देवी राजकीय प्राथमिक विद्यालय देहरादून में अध्यापिका थी। जो अस्पताल में अपने देवर विनोद की पत्नी के कुलक्षेप की आई थी,लेकिन अमृता की अस्पताल में मौत होने पर अपने पति के साथ कार में घर आ रही थी।
इस दर्दनाक घटना के बाद परिवार में एक ही चिराग मोहित पुत्र मृत्यक बाबूराम गौड’ की बुढी मां प्यारो देवी का रो रो के बुरा हाल है ।
20 वर्षीय मोहित गौड वर्तमान में दिल्ली में कोचिंग कर रहा है।
मृत्यक बाबूराम के परिवार की सदस्य अमृता देवी को देहरादून में उपचार के दौरान मौत हो जाने पर डेड बॉडी को एक एंबुलेंस में अपने पैतृक गांव लाखामंडल आ रहे थे ।
आज मंगलवार प्रातः 4:45 बजे सिलेसू पुल से कार कुछ दूरी तय करने के बाद कार नही दिखी तों एबुलेंस रोक दी कार काफी देर तक आगे नही आई,तो एबुलेंस वापस घटना स्थल के पास कार दुर्घटना हो चुकी थी।
चीख व पुकार यमुना नदी की बहती तेज धारा , अंधेरे व कोहोरे के कारण कुछ नही दिख रहा था।
घटना की जानकारी एबुलेंस में बैठे लोगों ने गॉव में दी तों खुशीयां पूरी तरह मातम में बदल गई ,और गांव क्षेत्र में शौक की लहर दोड पडी।
घटना की सूचना मोहित गौड को दिल्ली में दी तो रोता बिलबता हुआ अपने पैतृक गांव लाखामंडल व घाट पर पहुंच पहुंचा।
परिवार में एक ही चिराग मोहित के मां बाप का साया उठ जाने से अब मात्र अपनी बुढी दादी व चचा के सहारे ही आगे की जिंदगी की बागडोर है।
एक की डेडबोडी की मौत के पिछे परिवार के पॉच सदस्यों को मौत के घाट उतार दिया। ओर दो जिंदगी व मौत से जूझ रहे है।