विश्व टीःबीः दिवस पर क्विज आयोजित कर बीमारी के प्रति दिया जागरूकता का संदेश

विश्व टीःबीः दिवस पर क्विज आयोजित कर
बीमारी के प्रति दिया जागरूकता का संदेश

 

देहरादून। विश्व टीःबीः दिवस पर श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल के छाती एवम् श्वास रोग विभाग की ओर से क्विज प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। प्रतियोगिता में पीजी मेडिकल डाॅक्टरों की टीमों ने प्रतिभाग किया। क्विज़ के दौरान विशेषज्ञ डाॅक्टरों ने क्षय रोग के कारण, बीमारी की रोकथाम, उपचार व जागरूकता से जुड़े विभिन्न बिन्दुओं पर सवाल किये गए। उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाली टीम के सदस्यों को पुरस्कार देकर सम्मानित किया गया।
बुधवार श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल के आॅडिटोरियम में क्विज प्रतियोगिता का शुभारंभ एसजीआरआर इंस्टीट्यूट आॅफ मेडिकल एण्ड हेल्थ साइंसेज़ के प्राचार्य डाॅ अनिल कुमार मेहता ने किया। काबिलेगौर है कि हर वर्ष 24 मार्च को विश्व टीःबी दिवस के रूप में मनाया जाता है। क्विज प्रतियोगिता का उद्देश्य में जन साधारण बीच टीःबी के प्रति जागरुकता फैलाना है। प्राचार्य डाॅ अनिल कुमार मेहता ने कहा कि वर्ष 2025 तक देश को टीःबीः मुक्त बनाने का लक्ष्य रखा गया है। इस लक्ष्य को पूरा करने के लिए मेडिकल जगत के सहयोग के साथ-साथ आमजन की जागरूकता व सहभागिता भी जरूरी है।
क्विज़ प्रतियोगिता की आयोजक डाॅ रितिषा भट्ट ने कहा अभी भी भारत में हर साल टीःबीः के बहुत से मामले प्रकाश में आ रहे हैं। उन्होंने आंकड़ों का हवाला देते हुए कहा कि 2019 में भारत में टीःबी के 26 लाख मामले दर्ज किये गए, जबकि देश में टीःबी के कारण 4.44 लाख लोगों की मौत हुई।
क्विज प्रतियोगिता में डाॅ आबिद, डाॅ आशिमा, डाॅ आस्था की टीम को प्रथम पुरस्कार मिला। डाॅ प्रतीक, डाॅ प्रांजल व डाॅ हिना की टीम दूसरे स्थान पर रहे। छाती एवम् श्वास रोग विभाग के प्रमुख डाॅ जगदीश रावत ने विजेताओं को पुरस्कार देकर सम्मानित किया।