मानसिक स्वास्थ्य से परेसान लोगों के लिए यह खबर बहुत खास है।

nzphotonz /iStock / Getty Images Plus

हमारे देश में अक्सर देखा जाता है कि शाररिक स्वास्थ्य पर घ्यान दिया जाता है,लेकिन मानसिक स्वाथ्य पर बहुत कम लोग ध्यान देते है।नतीजा यह होता कि मानसिक स्वास्थ्य से पीड़ित व्यक्ति अवसाद व तनाव के कारण या तो बुरे व्यवसनों में पड़ कर अपने जीवन को खतरे में डाल देता है या फिर आत्महत्या जैसे खतरनाक रास्ते को अपना लेता है। कोरोना काल के दौरान लाॅकडाउन में नौकरी जाने या ग्रह कलेश के कारण मानसिक तनाव और भी बढ़ गये जिससे कई लोगांे ने आत्महत्या कर अपनी जीवनलीला समाप्त कर दी। मानसिक स्वास्थ्य कितना आवश्यक है और तनाव को जीवन में कैसे कम किया जा सकता है इसके लिए मानसिक रोग विशेषज्ञों की राय व परामर्श रामवाण का काम करता है।इस आवश्यक काम को अंजाम देने के लिए फारगिवनेस फाउंडेसन सोसायटी के संस्थापक डाॅ पवन शर्मा व उनकी पूरी टीम तनमन व धन से काम कर रही है। मानसिक स्वास्थ्य क्यों जरूरी है और वर्तमान समय में इसकी क्या आवश्यकता है इस विषय पर खास बातचीत की पत्रकार भानु प्रकाश नेगी ने