कोरोनेशन अस्पताल का गणतंत्र दिवस पर नेक कारनामा,  अपनाया समाज से पीड़ित एक ट्रांसजेन्डर(किन्नर)को

देहरादूनःकोरोनेशन अस्पताल ने गणतंत्र दिवस की शुभ बेला पर अजय नाम के एक टांसजेन्डर(किन्नर) को अपना कर नेक कारनामा किया है। कोरोनेशन अस्पताल के सीनियर फिजिसियन एमडी मेडिसिन डाॅ. नंदन सिंह बिष्ट ने हिमवंत प्रदेश न्युज को बताया कि अजय नाम का एक ट्रांसजेन्डर रायपुर मंे अपने मकान में किरायेदारों के साथ रहता है। वह 10वी पास है और आगे पढना चाहता है और आगे जाकर नौकरी करना चाहता है। लेकिन आस-पास के लोग और किन्नर समूह उसे परेसान करते है।जब उसने अपनी व्यथा डाॅ. बिष्ट को बतायी तो उन्होनें उसे अपने छोटे भाई का दर्जा दिया और उसकी हर संभव मदद करने का भरोषा दिलाया। इसके बाद कोरोनेशन अस्पताल के सीएमएस डाॅ. एल सी पुनेठा से डाॅ. बिष्ट ने इस विषय में बातचीत की तो उन्होनें कोरोनेशन अस्पताल के सभी डाॅक्टरों को बुलाकर मंत्रणा की। इसके बाद सभी डाॅक्टरों ने अजय नाम के ट्रांसजेन्डर को अस्पताल की ओर से गोद लेने का निर्णय लिया।

डाॅ.बिष्ट का कहना है कि किन्नर भी हमारे समाज के अभिन्न अंग है बस जरूरत इस बात की है कि, इन्हें प्यार और स्नेह से अपनाया जाय। उन्होनें सोशल मीडिया पर लागों से अपील की है कि समाज के ऐसे लोगों के सहयोग के लिए खुलकर सामने आये ताकि हमारे समाज में संतुलन बना रहे।