पेट में पैदा होने वाले कीड़ों से आप को मिर्गी रोग हो सकता है! जाने कैसे? डॉक्टर पीएस रावत से।

क्या आप जानते हैं कि पेट में हाथों की गंदगी से जाने वाले। कीड़े आपको बहुत बीमार कर सकते हैं। राष्ट्रीय कृमि दिवस पर। इस साल। 43 लाख बच्चों को कीड़ों की दवाई स्कूल स्तर पर पिलाने का लक्ष्य रखा गया है। जिससे कीड़ों से होने वाली तमाम बीमारियों से बच्चों को निजात मिल सके।
गांधी शताब्दी नेत्र चिकित्सालय के वरिष्ठ जिला अस्पताल भाग 2 के बाल रोग विशेषज्ञ डॉक्टर पीएस रावत का कहना है कि पेट में गंदे हाथों से जाने वाले। कृमि से 4 और 6 हफ्ते बाद उनके अंडे पैदा हो जाते हैं। यह अंडे खून के साथ शरीर के विभिन्न अंगों जैसे ब्रेन, मसल्स आदि मैं पहुंचकर लार्वा बनकर बड़े क्रीमी का रूप ले लेते हैं। जिससे तमाम प्रकार के खतरनाक रोग पैदा हो जाते हैं। इन रोगों में दौरा पड़ना, मिर्गी रोग, आंखों की रोशनी चले जाना सुनाई न देना आदि प्रमुख हैं।

डॉक्टर पीएस रावत का कहना है कि गर्मी से बचने के लिए। बच्चों को कम से कम हर तीसरे माह में कीड़ों की दवा दी जानी चाहिए। साथ ही उनका साफ सफाई का अत्यधिक ध्यान रखना चाहिए। जिससे बच्चों को कीड़ों से होने वाली तमाम प्रकार की घातक, बीमारियों से बचाया जा सके।

https://youtu.be/vV0Jlmzazyw