पोखरी किसान मेला क्यों हो रहा है इस बार चन्द्रशिला चांदनीखाल में! जाने इस खबर में।

प्रथम चन्द्रशिला नंदाकुण्ड पर्यटन,कृषि एवं खादी विकास मेला 15 से 19 अक्टूबर को चॉदनीखॉल पोखरी में।

-गायिका पम्मी नवल और गायक किसन महिपाल देंगे सांस्कृतिक संध्या में रंगारंग प्रस्तुती।

-चर्खी और मौत का कुंआ का ले सकेगें लोग भरपूर आनन्द।

-पूर्व कैवनेट मंत्री व विधायक बद्रीनाथ करेंगे मेले में भरपूर सहयोग।


 पोखरीःपिछले 14 सालों से लगातार आयोजित होने वाला किसान पर्यटन मेला पोखरी इस बार मेन बाजार से दूर नंदाकुण्ड,चॉदनीखाल में आयोजित किया जायेगा। मेले का मुख्य आकर्षण चर्खी और मौत का कुंआ रहेगा साथ ही गायिका पम्मी नवल व गायक किशन महिपाल सांस्कृतिक संध्या में लोगों का मनोरंजन करेंगे। चन्द्रशिला नंदाकुण्ड पर्यटन,कृषि एवं खादी विकास मेला समिति द्वारा प्रथम बार आयोजित इस मेले को क्षेत्रीय जनता के साथ पूर्व कैवनेट मंत्री राजेन्द्र भण्डारी के सहयोग से आयोजित किया जा रहा है।
मेले के मुख्य संरक्षक पूर्व मंत्री एवं बद्रीनाथ विधायक राजेन्द्र सिंह भण्डारी ने बताया कि पिछले 14 सालों से यह मेला पोखरी किसान मेले के नाम से चल रहा था  पिछले साल इस मेले के आयोजन को लेकर सरकार और हम हाईकार्ट गये ।सरकार को मेले के आयोजन की अनुमति मिली थी,लेकिन पिछले साल सरकार द्वारा आयोजित मेले का अभी तक कई लोगों को बकाया धन का भुकतान नहीं किया गया है,जिससे हजारों लोगों की भावनाओं को ठेस पंहुचा है। सरकार व वर्तमान विधायक की नाकामयाबी के चलते यह मेला नही हो पा रहा है। जनभावनाओं की कद्र करते हुए इस बार मेला चन्द्रशिला नंदाकुण्ड पर्यटन,कृषि एवं खादी विकास मेला समिति की ओर से आयोजित किया जायेगा। जिससे स्थानीय कास्तकारों किसानों व व्यापारियों को काफी लाभ मिलेगा।उन्होंने क्षेत्रीय जनता को मेले में पधारने व इसका भरपूर लाभ लेने का आवाहन किया है।
    भानु प्रकाश नेगी,देहरादून।