जौनपुर की इस बेटी ने किया उत्तराखंड का नाम रोशन

नैनबाग:
मोहन थपलियाल


कुछ करने की तम्मना ठान ले,तो चाहत की मंजिल भी पास आ जाती है ……टिहरी जनपद के विकासखण्ड जौनपुर थत्युड’ के पट्टी दशजुला ग्राम भंसवाडी की बेटी अमिषा चौ।हान ने दुनिया की सबसे बडी चोटी माउंट एवरेस्ट की चोटी पर फतह की । और जौनपुर ,प्रदेश व देश का नाम भी रौशन किया है।
अमिषा चौहान ने पहले किलीमंजारों पर भी चढाई कर चुकी हैं । और चढ़ाई को 54 घण्टे मे पूरी करने वाली भारत की पहली महिला बन गई है। अमिषा ने चोटी पर चढ़ने के लिए 34 व उतरने मे 20 घण्टे का समय लिया था।
ज्ञात है कि 23 मई 2019 को सुबह 8.20 मिनट पर अमिषा ने भारत के झण्डे को दुनिया की सबसे बडी चोटी माऊट एबरेस्ट पर फहराया, इस बीच अमिषा घायल भी हुई थी । अमिषा के पिता सूबेदार मेजर रविन्द्र चौहान है जो वर्तमान मे देहरादून मे रहते है ।अमिषा ने इससे पूर्व भी कई शिखरो को फतह किया है।

जिस पर अमिषा ने मुख्यमन्त्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत से मुलाकात कर अमिषा को फतह करने पर शुभकामनाए दी । अपने फेसबुक पेज पर उत्तराखण्ड की सभी बेटियो के लिए अमिषा चौहान को प्रेरणा बताया ।
अमिषा चौहान के भाई दीपक चौहान ने बताया की अमिषा बचपन से ही पढाई के साथ खेलो मे भी होनहार थी। घर के सहयोग के साथ व गुरूजनो के सहयोग के साथ आज अमिषा ने देश व उत्तराखण्ड का नाम रोशन किया।