जमीन पर जबरन कब्जे के लिए ज्ञान प्रकाश पर धोखे से जानलेवा हमला.

 

देहरादून- बीते दिनों सैनिक कॉलोनी शुक्लापुर थाना बसंत विहार में ज्ञान प्रकाश पर धोखे जानलेवा हमला कर अज्ञात हमलावरों ने बुरी तरह से घायल कर दिया, पीड़ित किसी तरह हमलावरों से जान बचाकर भागने में सफल रहा।दून अस्पताल से मेडिकल करने के बाद बसंत विहार एस.ओ ने पीड़ित की रिर्पोट लिखने के बजाय धमकाते हुए पीडित को थाने से भगा दिया कि तुम्हारे खिलाफ पहले से ही एक मामले में एफ आर आई दर्ज है।
पीड़ित ज्ञान प्रकाश का कहना है कि भू-माफिया पुलिस से मिले हुए है,इन्होंने धनबल के आधार पर मेरे खिलाफ गलत मामले दर्ज कराये है।जब भी मैं अपनी जमीन को देखने के लिए जाता हूंॅ मेरे साथ माफिया मारपीट और गाली गलौज करते है। इस जमीन पर मेरे 32 वर्षो से कब्जा है जिसकी मेरे पास पत्रावली भी है और मेरे नाम इस जमीन पर काबिज भी है। पीड़ित ने बताया कि कुछ समय पहले टी स्टेट के मैनेजर देवेन्द्र सिंह तोमर उर्फ चौधरी ने अबैध तरीके से खुन्टे गाड दिये जिसकी रिपोर्ट मैने विकासनगर एस डीएम के पास की है।

पीड़ित का आरोप है कि, हमलावरों में देहरादून निवासी सुखराज,दलिप चन्द्र,विष्णु प्रसाद,बाबूराम पुत्र स्व0 ओमप्रकाश एवं देवेन्द्र सिंह चौधरी उर्फ तोमर नीरज उपाध्याय मैनेजर टी स्टेट अम्बीवाला ईस्ट होपटाउन,विजेन्द्र सिंह उर्फ पुत्र अजय सिंह गुज्जर,चन्द्रमोहन,अनीता,लीला, प्रमिला,केदारसिंह असवाल प्रमुख है।

गौरतलब है कि,ज्ञान प्रकाश शुक्लापुर प्रेमनगर निवासी मजदूरी का काम कर बीमार पत्नी और दो बच्चों का किसी तरह भरण पोषण करता है। ज्ञान प्रकाश की इसी मजबूरी का फायदा उठाकर रसूकदार भू-माफिया इनकी जमीन पर जबरन कब्जा करना चाहते है।जिसमें पुलिस को धनबल के आधार पर खरीदकर जबरन गलत केश दर्ज कराये जा रहे है।