जाम के झाम में फंसे यात्री,अव्यवस्थाओं ने खोली प्रशासन की पोल

चमोली/गोपेश्वर

चमोली चार धाम यात्रा अपने चरम पर चल रही है वहीं हजारों की संख्या में श्रद्धालुओं को जाम का सामना करना पड़ रहा है।जाम इतना ज़्यादा लग रहा है कि कई किलोमीटर लंबी लाइनें
देखी जा रही है।
हालांकि प्रशासन की तरफ से पूरी व्यवस्थाएं की गई है ,मगर हर दिन 15 से 20 हजार श्रद्धालु बद्रीनाथ धाम और 5 से 10 हजार श्रद्धालु हेमकुंड साहिब के लिए पहुंच रहे हैं इसके चलते चारों तरफ जाम ही जाम से यात्रा भी प्रभावित हो रही है।
वही जाम के साथ-साथ जनपद में पेट्रोल की भी समस्याएं आने लग गई है कई वाहनों को पेट्रोल न मिलने से भी जाम की स्थिति बन रही है इसको देखते हुए जनपद में अब यात्रा पर आए श्रद्धालुओं को काफी दिक्कतें होने शुरू हो गई है।

आपको बता दें कि 10 मई को बद्रीविशाल के कपाट आम श्रद्धालुओं के लिए खोल दिए गए थे उसके बाद से लेकर अभी तक लगभग 5 लाख श्रद्धालुओं ने बद्रीनाथ धाम के दर्शन कर लिए हैं वही हेमकुंड साहिब के कपाट 1 जून को खोल दिए गए हैं।हर दिन हजारों की तादाद में श्रद्धालु पहुंच रहे हैं यात्रा व्यवस्थाओं को बनाए रखने के लिए प्रशासन को भी मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है।
अब देखना होगा कि यात्रा व्यवस्था किस तरह से प्रशासन द्वारा ठीक की जाती है लेकिन अभी जो सवाल है हर तरफ जाम आफत बना हुआ है।