जल जीवन मिशन से बूझेगी ग्राम पंचायतों की प्यास

देहरादून-केंद्र सरकार ने हर घर को नल से जोडऩे का निश्चय किया है।उत्तराखंड के ग्रामीण क्षेत्रों में भी इसे लेकर मशक्कत चल रही थी, लेकिन इसके लिए केंद्र से जल जीवन मिशन की गाइडलाइन का इंतजार हो रहा था जो की अब पूरा हो गया है अब प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों मे जल्द ही जल जीवन मिशन काम किया जायेगा।ग्रामीण क्षेत्रों मे जल जीवन मिशन के लिए केंद्र सरकार से गाइडलाइन जारी होने के बाद अब उत्तराखंड में भी मिशन के संचालन को शासनादेश जारी कर दिया गया है।मिशन के तहत प्रत्येक ग्रामीण परिवार को वर्ष 2024 तक घरेलू पेयजल कनेक्शन से जोड़ा जाएगा।

गौरतलब है कि,इस मिशन की शुरूआत करने से पहले जिन गांवों मे पानी समस्याऐं हैं उनका गांवो का सर्वे किया जायेगा।पेयजल सचिव की माने तो इस योजना के लिए जल संस्थान,स्वजल व जल निगम के द्वारा जिन गांवों में पानी की समस्या है उनका सर्वे किया जायेगा।पेयजल सचिव की माने तो इस योजना को 2024 तक पूरा किये जाने के साथ ही जिन गांवो मे पहले से ही पानी के कनेक्शन दिये गये हो लेकिन पानी की मात्रा कम थी उन कनेक्शनों मे पानी की मात्रा को बढ़ाया जायेगा।साथ जहां पर पहले से ही कोई योजना नहीं है वहां पर नये सिरे से काम किया जायेगा।
ग्रामीण क्षेत्रों के लिए शुरू की जाने वाली जल जीवन मिशन की योजना के लिए 170 करोड़ का सालाना बजट केन्द्र सरकार से पहले ही स्वीकृत हो गया है, साथ ही इस बजट के अंतर्गत पुरानी योजनाओं को भी पूरा किया जायेगा।केन्द्र सरकार की महत्वकांक्षी योजनाओं मे से एक जल जीवन मिशन योजना से अब ग्रामीण क्षेत्रों मे जल्द ही हर घर मे पानी के कनेक्शन दिये जायेंगे जिससे की गांव मे पानी की समास्या खत्म हो सके । लेकिन देखना होगा की यह मिशन 2024 तक पूरा हो पाता है या नहीं ।

उपेन्द्र सिंह राणा