कर्मयोगी डाॅ महेन्द्र कुवॅर को लौह पुरुष पं. देवराम नौटियाल सम्मान

हार्क संस्था के संस्थापक और निदेशक डाॅ महेन्द्र कुंवर को श्री नंदा देवी मेला नौटी जिला चमोली में इस साल का प्रतिष्ठित “लौह पुरुष पं0 देवराम नौटियाल सम्मान प्रदान किया गया।डाॅ. महेन्द्र कुंवर ने अपनी संस्था के द्वारा बागवानी,कृषि,फल प्रसंस्करण के क्षेत्र में उलेखनीय कार्य किया है।

हजारों  नवयुवकों को रोजगार दिया। उत्तराखंड के अनेकों कास्तकारों की आर्थिकी को मजबूत बनाया। रवाई तथा पुरोला घाटी के कृषकों को फल तथा सब्जी उत्पादन से जोड़ कर उन्हें अच्छा बाजार उपलब्ध कराया।

कालेश्वर,बागेश्वर आदि स्थानों की महिलाओं को प्रशीक्षण देकर उन्हें स्वरोजगार से जोड़ कर उनकी आर्थिकी मजबूत की।  कुंवर को कृषि पंडित की उपाधि से भी अलंकृत किया जा चूका है।  डाॅ कुंवर के समर्पण और लगन ने उत्तराखंड के कृषको की जिन्दगी ही बदल दी है।

गौरतलब है कि डाॅ. महेन्द्र कुवंर पहाडों में किसानों की आर्थिक मजबूती के लिए जमीनीतौर पर कई सालों से कार्यरत है। अभी तक लगभग 40 हजार से अधिक युवा किसानों व कस्ताकरों को कृर्षि व बागवानी के बैज्ञानिक तकनीक और उन्नत किस्म के जैविक बीजों को किसानों को समय समय पर बांट कर उन्हें आर्थिक तौर पर आत्मनिर्भर बना चुके है। बेहद साधारण से दिखने वाले डाॅ. कुवंर सदैव पहाडों में किसानों की दशा को सुधारने के लिए अथक प्रयास करते रहते है। जो काम सरकारें कई सालों ने मंे नही कर पाती है वह चंद महीनों में गांवों की महिला पुरूषों के स्यंम सहायता संगठन बना कर उन्हें कृर्षि और बागवानी के गूर सिखाते है। जिससे कुछ ही समय में किसान खेती के आधुनिक तरीके सीख कर साल दर साल अपनी आर्थिकी को मजबूत करते रहते है।


सरकारी नौकरी को त्याग डाॅ कुवंर ने अपनी मातृभूमि के लिए कुछ करने और युवाओं को स्वारोजगार से अत्मनिर्भर बनाने का निर्णय लिया जो अपने आप में सराहनीय कार्य है। कृषि और बागवानी के क्षेत्र में उल्लेखनीय कार्य के लिए डाॅ महेन्द्र कुवंर को कई राष्ट्रीय मंचों से सम्मानित किया जा चुका है जिसके वे सच्चे हकदार है।

 भानु प्रकाश नेगी,देहरादून