बच्चों के नव निर्माण के लिए हंस फाउंडेशन ने पोखड़ा में लगाई वर्कशॉप

देश भर में स्वास्थ्य-शिक्षा के प्रति समर्पित समाज सेवी माताश्री मंगला जी एवं श्रीभोलेजी महाराज जी की प्रेरणा से उत्तराखंड के पोखड़ा में स्थित सुनेना रावत चिल्ड्रन जूनियर हाई स्कूल में सांइस टेक्नोलॉजी अॉफ एजूकेशन इन मैथामेटिक्स के तहत स्कूली बच्चों के लिए एक वर्कशॉप का आयोजन किया गया… इस स्टेमपलेब वर्कशॉप के माध्यम से अविष्कार द्वारा बच्चों को अपने विषय को अच्छी तरह से जानने समझने का मौका मिलता है… हंस फाउंडेशन के तत्वावधान में आयोजित इस वर्कशॉप में सुनेना रावत चिल्ड्रन जूनियर हाई स्कूल के अध्यापकों एवं बच्चों को दिल्ली से गए विज्ञान शिक्षकों ने स्टेमपलेब के माध्यम से अध्यापन एवं अध्ययन करना सिखाया.

इस मौके पर हंस फाउंडेशन के महा प्रबंधक धर्मा राव ने बताया कि हम बच्चों में नयी तकनीक के माध्यम से अविष्कार पद्धति के तहत ज्ञात का उत्सर्जन करना चाहते हैं।

माताश्री मंगला जी एवं श्रीभोलेजी महाराज जी की प्रेरणा से पोखड़ा स्थित सुनेना रावत चिल्ड्रन जूनियर हाई स्कूल में सांइस टेक्नोलॉजी अॉफ एजूकेशन इन मैथामेटिक्स के तहत स्कूली बच्चों को परिक्षण दिया गया है कि किस तरह से अविष्कार के माध्यम से आसानी से अपने विषय को समझा जा सकता है।
इस वर्कशॉप में शामिल बच्चों ने इस तरह की वर्कशॉप के आयोजन के लिए माताश्री मंगला जी एवं श्रीभोलेजी महाराज जी का आभार व्यक्त किया है कि उन्हें सांइस जैसे विषय पर अविष्कार के माध्यम से पढ़ने के लिए जानकारी दी गई।
इस मौके पर सुनेना रावत चिल्ड्रन जूनियर हाई स्कूल पोखड़ा के प्रधानाचार्य एवं शिक्षकों ने भी इस वर्कशॉप में भागीदारी निभाई।