शिक्षा के क्षेत्र में नई अलख जगा रहा है राज हंस पब्लिक स्कूल-मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत

शिक्षा के क्षेत्र में अलख जगाएगा राज हंस पब्लिक स्कूल-त्रिवेंद्र सिंह रावत


माताश्री मंगला जी एवं श्रीभोलेजी महाराज स्वास्थ्य के क्षेत्र में जिस तरह से देश भर नयी ऊंचाइयों को छुते हुए हर दिन नया अध्याय रच रहे है। यह हम उत्तराखंडियों के लिए गर्व की बात हैं कि ऐसे समाज सेवक हमारे साथ खड़े है। इसलिए मैं कह सकता हूं कि पहाड़ पर जब भी स्वास्थ्य-शिक्षा के क्षेत्र में नयी क्रांति की बात की जाएगी तो,उस समय निश्चित तौर पर माता मंगलाजी एवं भोलेजी महाराज जी का नाम सर्वप्रथम लिया जाएगा। उक्त विचार मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने देहरादून के कैनाल रोड़,राजहंसपुर अपर मियांवाला में राजहंस पब्लिक स्कूल का उद्धाटन करते हुए व्यक्त किए।

मुख्यमंत्री ने इस मौके पर कहा कि यह बहुत महत्वपूर्ण बात हैं कि माता मंगलाजी उत्तराखंड के उन दूर-दारज के क्षेत्रों में शिक्षा का अलख जाग रही हैं,जहां से आज के समय में निरंतर पलायन हो रहा है। जहां आज के समय में स्कूल में आवागमन के लिए कोई सुविधा नहीं हैं। लेकिन माताजी इन क्षेत्रों में स्वास्थ्य और शिक्षा के क्षेत्र में हमें भी लगातार सहयोग कर रही है। हम माताजी-महाराज जी के आभारी हैं कि वह स्वास्थ्य-शिक्षा के क्षेत्र में निरंतर सरकार को सहयोग ही नहीं कर रहे अपितु उन बच्चों को शिक्षा देने के लिए भी प्रेरित कर रहे हैं,जो संसाधनों के अभाव में अपनी शिक्षा पूर्ण नहीं कर पाते। इसी कड़ी में आज इस क्षेत्र में राजहंस पब्लिक स्कूल का निर्माण कर माताजी ने यहां के बच्चों की शिक्षा के लिए जो नींव रखी हैं। इस नींव पर खड़े होकर बच्चें निश्चित तौर पर आने वाले समय में भारत निर्माण में अहम भूमिका निभाएगें। इस महत्वपूर्ण कार्य के लिए में अपनी तरफ से माता मंगलाजी एवं श्री भोलेजी महाराज जी का आभार प्रकट करता हूं। क्योंकि उनके इस महत्वपूर्ण प्रयास से पहाड़ से लेकर मैदान तक शिक्षा का प्रतिशत बढ़ रहा हैं। वह यकीनन उत्तराखंड को विश्व शैक्षिक मंच पर नयी पहचान दिलाने में भी विशेष भूमिका निभा रहे हैं।

इस मौके पर माता मंगला  ने कार्यक्रमों आएं मुख्य अतिथियों का आभार प्रकट करते हुए कहां कि हम उत्तराखंड सहित देश भर में स्वास्थ्य-शिक्षा के क्षेत्र में जो भी कार्य कर रहे है। वह तभी संभव हो पाता हैं,जब आप सब हमारे साथ खड़े रहते हैं,हमारे साथ कदम से कदम मिलाकर चलते है। इसके लिए मैं आपका आभार प्रकट करती हूं। माता मंगला जी कहां कि हम पहाड़ के उन दूरगामी क्षेत्रों में शिक्षा के क्षेत्र में विशेष तौर पर काम कर रहे है। जहां आज के समय में शिक्षा के आंकडे निरंतर कम होते जा रहे है। हम इन क्षेत्रों में स्कूलों तक पहुंचाने के लिए बच्चों के आवागमन के लिए स्कूल बसें भेंट कर रहे है। ताकि बच्चे किसी रूकावट के बिना स्कूल तक पहुंचे,हम ऐसे स्कूलों का निर्माण कर रहे है। जहां बच्चों को निःशुल्क शिक्षा प्रदान की जा सकें,हम स्वास्थ्य-शिक्षा के क्षेत्र में अपने आने वाले भविष्य को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए भी कार्य कर रहे है। ताकि वह शिक्षित होकर अपने जीवन स्तर को बेहतर बना सकें।

माता मंगला  ने राज हंस पब्लिक स्कूल के मुख्य ट्रस्टी देवेंद्र सिंह नेगी को बधाई देते हुए कहां की,देवेंद्र जी निश्चित तौर पर बधाई के पात्र हैं कि उन्होंने बहुत कम समय में राज हंस पब्लिक स्कूल का निर्माण कर यहां के बच्चों के लिए तैयार किया है। यह इसलिए भी सम्मानीय हैं कि जिस क्षेत्र से निरंतर पलायन हो रहा हो,उस क्षेत्र में इस तरह के स्कूल का निर्माण कर पलायन रोकने की दिक्षा में भी महत्वपूर्ण कदम है। जिसका श्रेय सीधे तौर पर देवेंद्र सिंह नेगी जी को जाता है।

इस मौके पर राज हंस पब्लिक स्कूल के मुख्य ट्रस्टी देवेंद्र सिंह नेगी ने कार्यक्रम में पहुंचे सभी अतिथियों का आभार प्रकट करते हुए कहां की आज मेरे लिए सौभाग्य की बात हैं कि उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत,पूज्य माताश्री मंगलाजी एवं श्री भोलेजी महाराज के साथ उत्तराखंड के तमाम गणमान्य लोगों हमें आशीष देने लिए हमारे साथ खड़े हैं। इसके लिए मैं विशेष तौर पर सभी का आभार प्रकट करता हूं। मैं विशेष तौर आभारी हूं माताजी-महाराज जी का कि आज हमने जो भी उपलब्धि हासील की हैं। उस सब में माताजी-माहाराज जी का सहयोग नहीं होता तो,हम यह सब कभी नहीं कर पाते है। माताजी-महाराज का सहयोग हमें ऐसे ही निरंतर मिलता रहे,इस आश में हम राज हंस पब्लिक स्कूल को यहां की जनता के समर्पित करते है।
इस मौके पर हंस कल्चर सेंटर के सचिव चंदन सिंह भंडारी ने कहां कि आज शिक्षा के क्षेत्र में राज हंस पब्लिक स्कूल के रूप माताश्री मंगला  एवं  भोले जी महाराज के आशीर्वाद के राजहंसपुर अपर मियांवाला के बच्चों के लिए शिक्षा का एक नया अध्याय शुरू हो गया हैं. जिस में पढ़-लिख कर बच्चे नये भारत के निर्माण में अहम भूमिका निभाएगे और विश्व में भारत का नाम रोशन करेंगे।
कार्यक्रम में मौजूद अतिथियों एवं तमाम लोगों का हंस कल्चर सेंटर के प्रतिनिधि दिनेश कंडारी ने आभार प्रकट किया।
इस मौके पर उत्तराखंड सरकार के कई विधायक एवं समाज के कई प्रबुद्ध लोग भी मौजूद थे।

 जगमोहन आजाद