गढवाल सभा ऋषिकेश ने राज्य की खुशहाली के लिए हवन कर मनाया राज्य स्थापना दिवस

उत्तखण्ड राज्य की 17 वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में गढ़वाल महासभा द्वारा आज उड़ान पाठ शाला मायाकुंड में राज्य की खुशहाली हेतु हवन यज्ञ किया गया।महासभा द्वारा आयोजित धार्मिक अनुष्ठान में आचार्य अंकित नैथानी द्वारा वैदिक मंत्रोच्चारण कर महासभा के कार्यकर्ताओं द्वारा राज्य आंदोलन में शहीद आंदोलनकारियो को नमन करते हुए उनके आत्मा की शांति हेतु एवम राज्य की खुशहाली हेतु हवन यज्ञ में आहुति डाली गई। इस मौके पर महासभा के प्रदेश अध्यक्ष डॉ राजे नेगी ने कहा कि पिछले 17 वर्षों में राज्य को सर्वाधिक हानि दैवीय, प्राकृतिक आपदाओं के कारण हुई है असुरक्षा का भाव पहाड़ो से पलायन का बड़ा कारण बना है।साथ ही इन 17 वर्षों में राजनीतिक उठापठक भी हावी रही 8 मुख्यमंत्रियों का बदला जाना प्रदेश के विकास में अवरोध का बड़ा कारण साबित हुआ है। सड़क, शिक्षा, सुरक्षा, स्वास्थ्य के साथ ही रोजगार का अभाव उत्तराखण्ड से बाहरी राज्यो में पलायन का एक बड़ा कारण आज भी बना हुआ है।


लोक भाषा एकेडमी का गठन न होना, राज्य की बोली भाषा अभी तक आठवीं अनुसूची में शामिल ना हो पाना आज बोली भाषा के भी पलायन का कारण बन चूका है। डॉ नेगी ने कहा कि गैरसैंण को लेकर दोनों राजनीतिक पार्टियों की स्थिति का साफ ना होना भी राज्य की बदहाली के एक कारण है।

पर्यटन के सहारे चलने वाला हमारा राज्य आज हर क्षेत्र में विकास की राह ताक रहा है।इस मौके पर आशुतोष कुड़ियाल कमल सिंह राणा महेश नोटियाल रुचि भट्ट श्रुतिका ठाकुर निधि शर्मा दिव्या सक्सेना पूजा नेगी ऋचा रावत हिमांशु बडोनी प्रिया क्षेत्री मनोज नेगी नीरज राणा राजा ढिंगरा उपस्तिथ थे।