फोरगिवनेस फाउंडेशन सोसाइटी के प्रथम स्थापना दिवस पर संस्था ने किया निशुल्क परामर्श सेवा कैम्प का किया आयोजन

 

फोरगिवनेस फाउंडेशन सोसाइटी के प्रथम स्थापना दिवस के अवसर पर संस्था द्वारा निशुल्क परामर्श सेवा कैम्प का आयोजन किया गया। इस कैम्प में आये सभी लोगों को उनकी मानसिक समस्याओं के समाधान के लिए निशुल्क परामर्श और थेरपी दी गई। कैम्प मे अवसाद, तनाव, हताशा, गुस्सा, नकारात्मकता, आत्मविश्वास मे कमी, मानसिक आघात आदि जैसे गम्भीर विकारों से राहत दिलाई गई। संस्था के संस्थापक डॉ. पवन शर्मा ने बताया कि कोरोना काल और लाॅकडाउन की वज़ह से लगभग प्रत्येक व्यक्ती मानसिक तनाव, हताशा, अवसाद जैसी चुनौतियों का सामना कर रहा है। ये समस्याएं हर घर-परिवार का माहौल प्रभावित कर रही है। ऐसे हालातों से बचने के लिए फोरगिवनेस फाउंडेशन सोसाइटी समय समय पर मानसिक स्वास्थ्य के लिए जागरूक करने के लिए विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन करती रहती है।

डॉ पवन शर्मा ने मानसिक स्वास्थ्य से जुड़ी कलंक की दुर्भावना और शर्मिन्दगी को छोड़कर लोगों से अपने मानसिक स्वास्थ्य के लिए आगे बढ़कर पहल करने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि मानसिक स्वास्थ्य हमारे शारीरिक स्वास्थ्य जितना ही महत्तवपूर्ण है, और जिस तरह से हम अपनी शारीरिक स्वास्थ्य के लिए प्रयास करते रहते हैं उसी प्रकार अपने मानसिक स्वास्थ्य के लिए किसी पेशेवर की मदद लेना चाहिए। 14 वर्ष से अधिक का कोई भी व्यक्ती संस्था से निशुल्क परामर्श की सुविधा ले सकता है। इस कैम्प के सफल आयोजन के लिए संस्था के सचिव राहुल भाटिया, उपाध्यक्ष  विभा भट्ट, कोषाध्यक्ष  भूमिका भट्ट शर्मा, सदस्य एडवोकेट कुलदीप भारद्वाज और पूनम नौडियाल ने अपनी सेवाएं प्रदान की।