अचानक टूटी मकान की छत, बाल-बाल बचे तीन मासूम।

 पोखरी/उडामाण्डा/चमोली: भारी बारिस के कारण ग्राम सभा सिनाऊ के उडामाण्डा कस्बे के विजयपाल सिंह रावत के मकान की एक तरफ की छत अचानक टूट गई है जिसमें उनके तीन बच्चे बाल- बाल बच गये।

घटना गुरूवार शांयकाल लगभग 5:39बजे की है जब विजयपाल सिंह रावत के बच्चे स्कूल से मिले गृहकार्य कर रहे थे, विजयपाल के बेटे के अनुसार स्कूल से आने के बाद अपना गृह कार्य कर रहे थे तब अचानक छत टूटने की आवाज आयी तो तेजी से वह अपनी बहिन के साथ बाहर भाग कर जान बचा पाये, तेजी से बाहर दौड़ते हुये उनका  हाथ हल्का सा जख्मी भी हो गया। रंगकर्मी हरीश खाली ने बताया कि इस खबर की सूचना पर वह जब घटना स्थल पर पंहुचे तो काफी हैरान रह गये उनका कहना है कि यह घटना अगर रात मे घटित होती हो बड़ी अनहोनी हो सकती थी।लेकिन भगवान का शुक्र है कि सब सकुशल है।वही पीड़ित विजयपाल रावत का कहना है कि, घटना के कई घटें बीत जाने पर भी आपदा राहत की टीम व प्रशासन मौके पर जायजा के लिये तक नही पंहुची है जिससे उनको काफी निरासा हुई है।

गौरतलब है कि घटना के बाद पीडित परिवार अपने पडोस के घर मे रह रहे है और शासन प्रशासन की मदद का इंतजार कर रहे है।अब देखना यह होगा कि शासन- प्रसाशन पीड़ितों को कब तक राहत दे पाती है।

 –भानु प्रकाश नेगी,देहरादून।