कथित अबैध छेडछाड से अगस्त्यमुनि (विजयनगर) में भारी रोष।डीएम रूद्रप्रायाग ने की शांन्ति की अपील।

 

पिछले दिनों डिग्री काॅलेज अगस्त्यमुनि में एक युवक- युवती की अशलील हरकतों को काॅलेज परिसर में काम करने वाले बिहारी मूल के युवकों द्वारा विडियों बनाकर युवती को ब्लैकमेल करने की घटना और एक टेलर के यहां काम करने वाले कुछ युवकों के कक्षा 10 में पढने वाली छात्रा के साथ धोखे से छेडछाड करने की कथित घटना से आक्रोशित होकर अगस्त्यमुनि और विजनगर के आसपास कई स्थानों पर आगजनी की घटना प्रकाश में आयी है। घटना से गुस्साये काॅलेज के छात्र छात्राओं ने जमकर हंगामा किया


प्रत्यक्षदर्शीयों के अनुसार पिछली घटना 30 मार्च से ही क्षेत्र के लोग काफी आक्रोशित थे जिसमे आरोपियों को पकड कर पुलिस हिरासत में लिया गया लेकिन कुछ दिन में ही छूट जाने से लोगोें में भारी रोष पैदा हो गया था । दूसरी घटना के बाद आज दिन में भीड़ उग्र हो गयी। भारी भीड ने बाजार में जमकर उत्पात मचाया। जिससे अगस्त्यमुनी और विजयनगर बाजार में काफी तनाव पैदा हो गया। पुलिस को भीड को काबु करने काफी मसकक्त करनी पडी। सूत्रों के अनुसार आगजनी की घटना को एक विशेष संगठन ने अंजाम दिया जो श्रीनगर से आये थे।

वही पुलिस का कहना है कि लडकी के बलात्कार किये जाने की खबर अफवाह है।
*कुछ असामाजिक तत्वो द्वारा थाना अगस्त्यमुनि क्षेत्रान्तर्गत में सामाजिक सदभाव खराब करने के उद्देश्य से मुस्लिम समुदाय के युवकों द्वारा एक लड़की के साथ बलात्कार किये जाने की झूठी अफवाह फैली जा रही है जबकि इस प्रकार की कोई घटना नहीं हुयी है। एक छेड़खानी का मामला पुलिस के सज्ञान में आया है जिसमें संदिग्ध युवकों को पुलिस द्वारा हिरासत में लिया गया है, और सभी संदिग्ध हिन्दू समुदाय के हैं। पीड़ित पक्ष द्वारा अभी तक इस सम्बन्ध में कोई तहरीर नही दी गयी है तथा तहरीर प्राप्त होने पर पुलिस द्वारा नियमानुसार उचित वैधानिक कार्यवाही अमल में लायी जायेगी। साथ ही लोगों को सचेत किया जाता है कि किसी के द्वारा इस प्रकार की भ्रामक/अपुष्ट खबर जो सामप्रदायिक सौहार्द को खराब कर सकती है अगर फैलायी जाती अथवा किसी को भेजी जाती है तो ऐसे लोगों के विरूद्ध सामाजिक सद्भाव को बिगाड़ने के अपराध में कठोर से कठोर कार्यवाही अमल में लायी जायेगी।- प्रहलाद मीणा

वही रूद्रप्रयाग डीएम मंगलेश धिडियाल ने लोगों से अपील की है कि क्षेत्र में शांन्ति बनाये रखे और अफवाहों पर ध्यान न दे। फिलहाल क्षेत्र में हालत स्थिर बनी हुई।