कोविड पॉजिटिव लड़की और लकवाग्रस्त भाई के मुद्दे पर कोरोनेशन ने दून स्टाफ पर किए प्रहार

कोविड पॉजिटिव लड़की और लकवाग्रस्त भाई के मुद्दे पर कोरोनेशन ने दून स्टाफ पर किए प्रहार

-कोरोनेशन स्टाफ ने प्रमुख अधीक्षिका को लिखा पत्र

-कोविड नोडल अधिकारी की कार्यशैली पर निशाना

-कोरोनेशन में संक्रमण की आशंका जताई

-बीमार भाई के उपचार में दून अस्पताल की लापरवाही



इसके अलावा चमोली जिले से आये बीमार लकवाग्रस्त भाई के उपचार में भी लापरवाही के संकेत मिल रहे है। कोरोनेशन में भर्ती होने के बाद बीमार लड़के के पेट से लगभग डेढ़ लिटर मवादयुक्त पानी निकाला गया। (देखें वीडियो व चित्र)जबकि वह लड़का 28 मई से 8 जून तक दून अस्पताल में भर्ती था। इस बीमार युवक का सही इलाज नही होने पर भी कोरोनेशन व दून अस्पताल के बीच तलवारें खिंच गई है। कोरोना संकट में दून अस्पताल में मनमानी, लापरवाही व लीपापोती का यह मुद्दा गंभीर चर्चा का विषय बन गया है। कोरोनाशन कर्मियों ने आर पार की जंग के लिए कमर कस ली है।


– वरिष्ठ पत्रकार अविकल थपलियाल की फेसबुक वॉल से