चार धाम विकास परिषद के प्रस्तावित उत्तराखंड लोक धार्मिक संस्थाए (प्रवन्धन एवं विकास)2019 की प्रथम बैठक रही एतिहासिक-आचार्य ममगाई


बैठक में आचार्य ममगाई ने कहा कि यह एक्ट चारधाम के हकहकूकधारकों को ध्यान में रखकर बनाया गया है।सभी मंन्दिर को ध्यान में रखते हुए सभी धामों के लोगों को ध्यान में रखते हुए सभी धामों के लोगों को बुलाकर एवं विश्वास में लेकर यह बैठक अपने आप में एतिहासिक रही।
इससे पूर्व की यात्रा तथा आगामी यात्रा को ध्यान में रखते हुए मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार सभी की सहमति से यह बैठक बुलाई गई थी यात्रा व्यवस्थाओ को उत्तम बनाने के लिए मुख्यमंत्री चारधाम में विकास के लिए हर व्यक्ति के हाथों में काम दिलाने के लिए प्रयासरत है।
पूर्व सांसद मनोहर कात ध्यानी ने कहा कि एक व्यक्ति विशेष का नहीं बल्कि समाज का हित ध्यान में रखकर जिस काम को करने में हो उसमें सबकी सहमति होनी चाहिए।पूर्व उपाध्यक्ष अनुसूया प्रसाद मैखुरी ने हमें दलगत राजनीति से उठकर देश व प्रदेश हित में काम करना चाहिए।

विधि आयोग के अध्यक्ष राजेश टंन्डन कि हम केवल उत्तराखंड का हित एवं यात्रियों को सुविधा देने के लिए अतिथि देवो भव के तर्ज पर सबको सम्मान देने के लिए तत्तपर है।
कैवनेट मंत्री सुबोध उनियाल ने पलायन रोकने के लिए चारो धामों में तीर्थाटन कारोबार में जोर देने की आवश्यकता की बात कही।