चमोलीः रैंणी तपोवन आपदा ताजा अपडेट


रैणी तपोवन त्रासदी के पांचवें दिन भी रेस्क्यु टीमों के द्वारा राहत व बचाव कार्य लगातार जारी है।टनल नम्बर दो में एक मीटर मलवे को साफ करने में अब एक घंटे का समय लग रहा है। प्रसाशन द्वारा जारी किये गये आंकडों के अनुसार टनल नम्बर दो में 35 लोगों के फंसे होने की खबर है। अभी तक निकाले गये 34 शवों में से सिर्फ 10 की ही पहचान हो पाई है।मुख्यमंत्री त्रिवेन्दं्र सिंह रावत ने आपदा मंे मृत लोगांे के परिजनों को शव की पहचान के बाद तत्काल राहत राशि देने के आदेश दिये है।

परियोजना अफसरों के टनल के सही डिजायन की सही जानकारी न देने के कारण राहत व बचाव कार्य में देरी हो रही है।इसके साथ  ही टनल को नये स्थान से छेद करने का प्रयास किया जा रहा है।वही रैंणी गांव में बीआरओ द्वारा नये बैली ब्रिज के निमार्ण का कार्य तेजी से किया जा रहा है जिसको पूरा करने के लिए 10 दिन का लक्ष्य रखा गया है। इसके साथ ही श्रीनगर गढवाल में बने जलविधुत परियोजना की झील मंे नेबी के 8 सदस्यीय गोताखोरों की टीम ने झील में शवों को सर्च करने का काम शुरू कर दिया है।आपदा से प्रभावित इलाकों में राहत व बचाव कार्य का जायजा आज राज्यपाल बेबी रानी मौर्य व विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल लेंगे।