“लोकपर्व ईगास” पर ऋषिकेश गढ़वाल महासभा ने बच्चों की विशेष पाठशाला का किया आयोजन।

ऋषिकेश: गढ़वाल महासभा द्वारा उत्तराखण्ड के “लोकपर्व इगास” के उपलक्ष्य में निशुल्क शिक्षण संस्थान उड़ान स्कूल मायाकुंड ऋषिकेश में दो दिवसीय कार्यक्रमो का आज विधिवध शुभारम्भ हो गया है।कार्यक्रम के पहले दिन आज गढ़वाली दिवाली ‘इगास (बग्वाल)’ के अवसर पर विशेष कक्षा आयोजित कर बच्चों को गढ़वाली दिवाली का महत्व बताया।आज सोमबार को विशेष कक्षा में वरिष्ठ साहित्यकार एवं पर्यावरण सचेतक विनोद जुगरान ने बच्चों को लोकपर्व इगास के बारे में बताया कि गढ़वाल क्षेत्र में दीपावली के ठीक ग्यारह दिन बाद इगास बग्वाल के रुप में गढ़वाली दिवाली मनाई जाती है। उन्होंने कहा कि दीपावली मर्यादा पुरुषोत्तम राम की लंका विजय का प्रतीक प्रकाश पर्व हैं, लेकिन दिवाली के समय ही चार सौ वर्ष पूर्व गढ़वाल के वीर माधो सिंह भंडारी के नेतृत्व में गढ़वाल सेना ने दापाघाट का युद्ध जीतकर तिब्बतियों पर विजय प्राप्त की थी और दिवाली के ठीक ग्यारहवें दिन गढ़वाल सेना अपने घर पहुंची थी। जिसके बाद से प्रतिवर्ष दिवाली के ग्यारहवें दिन गढ़वाली दिवाली के रूप में ‘इगास बग्वाल’ मनाया जाता है।

इस दिन परिवार के लोग एक साथ एकत्रित होकर चीड़, भीमल या बाज की लकड़ी से मालू के टहनी की छाल से बांधकर उसमें आग लगाकर हवा में घुमाते हैं, जिसे भैलों खेलना कहा जाता है। इसके साथ ही पकौड़ी, पकवान, स्वाला आदि बनाते हैं और पारंपरिक वाद्य ढोल, दमाऊ की थाप पर नाचकर इगास मनाते हैं। उन्होंने बताया कि उन्हीं वीरों की याद में ‘एक सींघ रण का, एक सींघ गाय का, एक सींघ माधो सिंह, बाकी काहे का’ आदि गीत भी गाए जाते हैं।

इस अवसर पर गढ़वाल महासभा के प्रदेश अध्यक्ष एवम स्कूल निदेशक डॉ. राजे सिंह नेगी ने कहा कि नयी पीढ़ी को अपने लोकपर्वो, रीति रिवाजों और संस्कृति से जोड़ने के लिए के बहुत जरूरी है कि इनको स्कूली पाठ्यक्रम में शामिल किया जाना जिसके लिए महासभा द्वारा लगातार राज्य सरकार से मांग की जा रही है। डॉ नेगी ने कहा कि इगास के उपलक्ष्य में 2 दिवसीय कार्यक्रम में कल सुबह के शाम स्कूली बच्चो को वीर भड़ माधो सिंह भंडारी की वीरगाथा पर आधारित फीचर फिल्म दिखाई जाएगी, दोपहर 3 बजे से गढ़वाली कवि सम्मेलन एवम लोक गायक धूम सिंह रावत द्वारा संगीतमय प्रस्तुति दी जायेगी। इस अवसर पर स्कूल के प्रबंधक रमेश लिंगवाल, शिक्षका दिव्य सक्सेना, निधि शर्मा, ऋचा रावत, मंजू देवी ,आशुतोष कुड़ियाल अंकित नैथानी,मनोज नेगी, विजय असवाल, हिमांशु बडोनी नीरज राणा उपस्थित थे।